home page

इमरान खान के ऊपर हमला ,बाल-बाल बचे इमरान खान , बहुत नजदीक से गुजरी गोलिया।

गुरुवार (3 नवंबर) को इमरान खान पर हमला हुआ और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। उनके पैर में चार गोलियां लगी थी

 | 
imaran khan

Pakistan Crisis:इमरान खान पर हुए जानलेवा हमले के बाद हालात बेहद नाजुक हैं। इमरान खान ने हमले के चार दिन बाद शुक्रवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि उस दिन उन पर जानलेवा हमला किया गया था। इमरान ने कहा कि जब वह अपने कंटेनर पर खड़े लोगों को संबोधित कर रहे थे, तभी अचानक एक व्यक्ति ने उन पर साइड से गोली मार दी. गोली उनके पैर मे  लगी और वह नीचे गिर गये । इमरान खान ने कहा कि जब वह गोली लगने से नीचे गिरे तो उन्होंने देखा कि दूसरी तरफ से भी कोई उन पर फायरिंग कर रहा है। एक के बाद एक कई गोलियां उसके सिर के ऊपर से निकलीं।

इमरान ने कहा कि अगर उनमें से एक भी गोली उन्हें लग जाती  तो उनका बचना मुश्किल हो जात । इमरान खान ने कहा कि इस हमले में उन्हें चार गोलियां लगी हैं। उन पर यह हमला एक साजिश है। इमरान ने कहा कि उन्हें पता है कि उन पर हमला किसने किया। उन्होंने मीडिया में ऐसे लोगों का नाम लिया है जो इस साजिश में शामिल थे, और पता लगाने में उनकी मदद का मांग कर  रहे हैं।

रैली के दौरान हुआ हमला

इमरान खान पर गुरुवार (3 नवंबर) को एक रैली के दौरान हमला हुआ था, जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उसके पैर में चार गोलियां लगीं और वह जमीन पर गिर गए । हमले के बाद, इमरान की पार्टी पीटीआई के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि यह खान पर एक सुनियोजित हत्या का प्रयास था और वह बाल-बाल बच गये । किसी भी 9 MM के हथियार पर हमला करने के लिए एक स्वचालित हथियार का प्रयोग किया गया । पुलिस ने कहा था कि हमले में एक व्यक्ति की मौत हो गई और सात घायल हो गए। शुक्रवार को डॉन अखबार ने बताया कि एक मौत सहित 14 लोग घायल हो गए।

इमरान खान ने 4 नवंबर तक इस्लामाबाद पहुंचने के लक्ष्य के साथ 28 अक्टूबर को लाहौर से 'हकीकी आजादी' मार्च शुरू किया था, लेकिन मार्च के कार्यक्रम में बदलाव के चलते अब मार्च का  11 नवंबर तक इस्लामाबाद पहुंचने की संभावना है । 

तमाम खुफिया एजेंसियां अलर्ट पर

पाकिस्तान में इमरान खान पर हमले के बाद से माहौल तनावपूर्ण है. इस हमले के बाद से ही पाकिस्तान की तमाम खुफिया एजेंसियां ​​हाई अलर्ट पर हैं, किसी भी तरह की स्थिति से निपटने की तैयारी की जा रही है. इमरान के समर्थन में लोग रैली कर रहे हैं और पाकिस्तान के कई इलाकों में प्रदर्शन हो चुके हैं. इसके चलते पाकिस्तानी सेना को भी हाई अलर्ट पर रखा गया है। पीएम शाहबाज शरीफ इस बात से चिंतित हैं कि देश में संभावित गृहयुद्ध जैसी स्थिति पैदा हो सकती है ।